अपहरण नहीं हुआ, शादी की है

उत्‍तर प्रदेश के श्रावस्‍ती में एक अंतधार्मिक विवाह ने भयानक साम्‍प्रदायिक रूप ले लिया। स्‍टार न्‍यूज के संवाददाता रविकांत घटना की पड़ताल के लिए दो दिनों तक श्रावस्‍ती में रहे। शनिवार को उनकी रिपोर्ट में पहली बार उस जोड़े की आवाज़ भी सुनने को मिली, जिन्‍हें इस घटना की वजह माना जा रहा है।

बकौल रविकांत, लड़की ने कहा कि वे एक दूसरे को पाँच साल से जानते हैं और उसका अपहरण नहीं हुआ है। उसने शादी कर ली है। यही नहीं उसने ज़ोर देकर कहा कि वह बालिग है और उ

सकी उम्र 20 साल है।

जब उसे यह बताया गया कि उन लोगों की वजह से ऐसा हादसा हुआ तो लड़की ने कहा कि यह घटना उसी के घरवालों ने करवायी है। उसने कहा कि इस घटना के बाद वह अपने घर नहीं जाना चाहती। उसे जान का ख़तरा है।

दूसरी ओर , रविकांत के मुताबिक, लड़के ने बताया कि वे लोग जंगल में कहीं छिपे हैं और उनकी जान को खतरा है। लड़के ने मुख्‍यमंत्री मायावती से गुहार लगायी है कि बहन जी, उनकी जान की हिफाजत करें। पुलिस उनके पीछे पड़ी है।

इन जोड़ों की गुहार ने फिर से उस पूरे तंत्र पर सवाल खड़ा कर दिया है जो तंत्र दो बालिग लड़के लड़की को अपनी मर्जी से, अपने जीवन साथी का चुनाव नहीं करने देती। यही नहीं विडम्‍बना देखिये, भारत का कानून उन्‍हें इसकी इज़ाजत देता है लेकिन कानून की रक्षा की जिम्‍मेदारी जिन पर है, वे ही उनके खिलाफ खड़े हो जाते हैं।

Comments